ads

Anupama 29th May 2021 Written Updates: काव्या ने शुरू की हल्दी-मेहंदी की रस्म, नहीं आया परिवार को कोई भी सदस्य

नई दिल्ली। वनराज संग शादी को लेकर काव्या बेहद ही खुश हैं। लेकिन इस दौरान भी वह अनुपमा को नीचा दिखाना नहीं छोड़ती हैं। काव्या ने खुद ही मेहंदी और हल्दी की रस्म करना शुरू कर दिया है। साथ ही वह पूरे परिवार से भी कहती है कि वह उनके फंक्शन में शामिल हों। जानिए आज के लेटेस्ट एपिसोड में क्या होगा।

काव्या ने अनुपमा की मेहंदी लगाने की जिद्द

काव्या अनुपमा से जिद्द करती है कि वह मेहंदी लगाा दे और उनके हाथ नाम पर वनराज लिख दें। अनुपमा काफी मना करती हैं लेकिन काव्या फिर भी काफी जिद्द करती हैं कि वही उनके हाथ में मेहंदी लगाए। अनुपमा मेहंदी लगाने के लिए काव्या के पास पहुंचती हैं। काव्या अनुपमा से कहती हैं कि वह उनके हाथ में वनराज लिख दें। यह सुनकर अनुपमा कहती हैं कि वह उनके हाथ पर वी नहीं बल्कि पूरा नाम वनराज शाह लिखेंगी। जिसे सुन काव्या काफी नाराज़ हो जाती हैं और उन्हें मेहंदी लगाने से मना कर देती हैं। वहीं काव्या अनुपमा को कहती हैं कि वह शादी में जरूर आएं और लेकिन अनुपमा कहती हैं कि वह अब नहीं आएंगी।

काव्या की हुई मेहंदी खराब

अनुपमा तो काव्या के हाथ पर मेहंदी नहीं लगाती है लेकिन राखी दवे लगा देती हैं। काव्या मेहंंदी लगवाने के बाद खुशी से फोटोज क्लिक करवाने लगती हैं और तभी नीचे गिर जाती है। जिससे उनकी मेहंदी खराब हो जाती है। यह देख अनुपमा काव्या से कहती हैं कि मेहंदी नए रिश्तों की तरह होती है। जरा सा ध्यान भटका रिश्ते खराब हो जाते हैं। वहीं काव्या की मेहंदी खराब देख सभी राखी दावे जोरों से हंसने लगती हैं।

वनराज ने कही बापू जी दिल की बात

एक ओर जहां काव्या शादी को लेकर काफी उत्साहित नज़र आ रही हैं। वहीं दूसरी ओर वनराज है कि शादी को लेकर काफी परेशान है। वनराज अपनी परेशानी का हल ढूंढने के लिए बापू जी को फोन करता है। वनराज को बापू जी को बताता है कि वह शादी नहीं करना चाहता है। जिसे सुनकर बापू जी काफी गुस्सा हो जाते हैं और वनराज को कोसने लगते हैं। वनराज उनसे कहते हैं कि वह उनकी मदद करें और बताएं कि वह कैसे इस समस्या से बाहर आ सकते हैं। तभी काव्या वनराज को मेहंदी लगाए हाथों को फोटोज भेजती हैं। जिसे देख वनराज और भी परेशान हो जाता है।

अनुपमा ने देखा बुरा सपना

अचानक से अनुपमा भागते हुए सभी के कमरों में जाती हैं और जोरों से सबके गेट ठकठकाने लगती हैं। वह रोते हुए जोरों से सबका बुलाती हैं लेकिन कोई भी गेट नहीं खोलता। एक दम से अनुपमा की आंख खुलती है और वह देखती हैं कि वह एक सपना है। अनुपमा घबराहट के साथ भगवना से प्रार्थना करती हैं कि उनका पूरा परिवार ठीक रहे।

काव्या की हल्दी में कोई नहीं हुआ शामिल

काव्या हल्दी की रस्म के लिए सबको बुलाती है, लेकिन सभी आते हैं और काव्या को बुरा भला कहकर चले जाते हैं। यह देख काव्या काफी दुखी होती है और खुद को ही हल्दी लगाने लगती है। राखी दवे ताना मारते हुए काव्या से कहती हैं कि पूरा परिवार तो छोड़ा उनके होने वाले पति वनराज भी नहीं आए। जिसे सुनकर काव्या कहती हैं कि अब वह उनके कमरे में जाएंगी।

( Pre- वनराज संग शादी को लेकर काव्या काफी उत्साहित हैं। काव्या ने मेहंदी और हल्दी की रस्म भी करनी शुरू कर दी है। वहीं वनराज हैं कि इस शादी से बहुत परेशान हैं। )



Source Anupama 29th May 2021 Written Updates: काव्या ने शुरू की हल्दी-मेहंदी की रस्म, नहीं आया परिवार को कोई भी सदस्य
https://ift.tt/3c2hUht

Post a Comment

0 Comments