ads

Board Exam 2021: इस साल दो बार आयोजित होगी दसवीं और बारहवीं बोर्ड परीक्षाएं, जानें पूरी डिटेल

MP Board Exam 2021: एमपी बोर्ड की परीक्षाएं इस साल दो बार आयोजित होंगी। स्टूडेंट्स के पास यह विकल्प होगा कि वह किस परीक्षा में शामिल होना चाहते हैं। दूसरी बार आयोजित होने वाली परीक्षा में शामिल होने के लिए अलग से आवेदन करना होगा।

स्कूल शिक्षा मंत्री के निर्देश पर स्कूल शिक्षा विभाग ने कक्षा 6वीं से 8वीं तक के शैक्षिक कार्यक्रमों का प्रसारण दूरदर्शन मध्यप्रदेश पर प्रारंभ किया है। यह कार्यक्रम सप्ताह में 6 दिवस सोमवार से शनिवार तक प्रसारित किए जाएंगे।

Read More: बोर्ड परीक्षा के लिए पाठ्यक्रम में 30% की कटौती, स्कूलों को भेजी विवरणिका

परीक्षा की तिथियां
पहली बार की परीक्षा 30 अप्रैल से 15 मई तक होगी, वहीं दूसरी बार की परीक्षा 1 जुलाई से 15 जुलाई तक आयोजित होगी। यह फैसला एमपी बोर्ड की साधारण सभा की बैठक में लिया गया। कोरोना के मद्देनजर ऐसा किया जा रहा है। ऐसा कहा जा रहा है कि दो बार परीक्षाएं आयोजित होने से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन आसानी से किया जा सकेगा।

18 लाख आवेदन
इस बार एमपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षा के लिए 18 लाख स्टूडेंट्स ने आवेदन किया है। इसमें 10वीं के लगभग 10.50 और 12वीं के करीब 7.50 लाख स्टूडेंट्स ने अप्लाई किया है।

Read More: निश्चित सफलता के लिए निकालें मन के भीतर बैठे 6 डर

फेल स्टूडेंट्स दे सकेंगे दोबारा परीक्षा
इस बार एमपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं परीक्षा के लिए सप्लीमेंट्री परीक्षा नहीं होगी। इस बार पहली बार की परीक्षा में फेल स्टूडेंट्स तीन माह बाद दोबारा परीक्षा दे सकेंगे। साथ ही मार्कशीट पर सप्लीमेंट्री नहीं लिखा जाएगा और स्टूडेंट्स को दोबारा परीक्षा देने के लिए अगले साल तक इंतजार नहीं करना होगा, बल्कि तीन माह बाद ही परीक्षा दे सकेंगे।

Read More: सीबीएसई 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षार्थियों के लिए खुशखबरी, जानें एग्जाम और रिजल्ट से जुडी पूरी डिटेल्स

सप्लीमेंट्री की जगह दो बार होगी मुख्य परीक्षा
बोर्ड ने सत्र 2020-21 से बोर्ड परीक्षा देने वाले 10वीं और 12वीं के विद्यार्थियों के लिए कई बदलाव भी किए हैं। मंडल की बैठक में ये फैसला लिया गया है कि, शैक्षणिक सत्र 2020-21 से बोर्ड परीक्षा देने वाले विद्यार्थियों को सप्लीमेंट्री की परीक्षा नहीं देनी होगी। इसकी जगह दो बार मुख्य परीक्षा ली जाएगी। श्रेणी सुधार के लिए भी विद्यार्थी दोबारा होने वाली मुख्य परीक्षा में बैठ सकता है।

अब मार्कशीट पर नहीं लिखा जाएगा सप्लीमेंट्री
बोर्ड ने यह भी तय किया है कि, अब मार्कशीट पर सप्लीमेंट्री नहीं लिखा जाएगा। किसी फेल सब्जेक्ट के सामने स्टार भी नहीं लगेगा। बोर्ड ने अप्रैल से मई तक मुख्य परीक्षा और जुलाई में दोबारा मुख्य परीक्षा कराने का निर्णय लिया है।

Read More: बोर्ड परीक्षा के पैटर्न में हुआ बड़ा बदलाव, अब पास होना बेहद आसान

100 अंक के पेपर
एमपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षा के लिए हर विषय का प्रश्न पत्र 100 अंकों का होगा. इसमें एक तीन और चार अंकों के ही प्रश्न पूछे जाएंगे। एमपी बोर्ड की वेबसाइट पर प्रश्न पत्र का ब्लूप्रिंट अपलोड कर दिया गया है।



Source Board Exam 2021: इस साल दो बार आयोजित होगी दसवीं और बारहवीं बोर्ड परीक्षाएं, जानें पूरी डिटेल
https://ift.tt/3hKBArL

Post a Comment

0 Comments